Monday, February 20, 2017

यूट्यूब पर खय्याम के चुनिंदा गीत

खय्याम से मशहूर पुराने ज़माने की फिल्मों के संगीतकार मुहम्मद ज़हूर खय्याम उर्फ़ खय्याम को उनके ९१वे जन्मदिन पर शानदार पुष्पांजलि मिली।  शेमारू एंटरटेनमेंट ने अपने फ़िल्मी गाने यूट्यूब चैनल पर 'सूथिंग मेलोडीज ऑफ़ खय्याम' के अंतर्गत खय्याम के मधुर संगीत से सजे हिंदी फ़िल्मी गानों का जूक बॉक्स लांच किया।  इस टाइटल में खय्याम द्वारा संगीतबद्ध फिल्म बाजार, शगुन, फुटपाथ और लोरी जैसी फिल्मों के बीस गीतों के वीडियो को डाला है।  इन चुनिंदा गीतों की मेलोडी कानों में रस घोलने वाली साबित होगी।  खय्याम ने फुटपाथ, फिर सुबह होगी, शगुन, आखिरी खत, कभी कभी, त्रिशूल, नूरी, थोड़ी सी बेवफाई, उमराव जान, बाजार, रज़िया सुल्तान और लोरी जैसी बहुत काम फिल्मों को उम्दा संगीत दिया है।  उन्हें तीन फिल्मफेयर अवार्ड्स के अलावा एक राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार भी मिला है।  पद्मभूषण से सम्मानित खय्याम अपनी तमाम आमदनी खय्याम प्रदीप जगजीत कौर (केपीजे) चैरिटेबल ट्रस्ट को दान कर देते हैं।  यह ट्रस्ट संगीत की दुनिया के ज़रूरतमंदों की मदद करता है। 

Balasaheb made the common man into superman: Sanjay Raut

On the eve of Shiv Sena Foundation Day, 52 years after the party was founded by Sena Supremo Balasaheb Thackeray,  MP Sanjay Raut, Nawa...