Friday, April 7, 2017

फिल्म पुरस्कार चले बॉलीवुड से रीजनल सिनेमा की ओर

प्रियदर्शन की अध्यक्षता में गठित जूरी के द्वारा ६४ वे राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों की विजेता फिल्मों और हस्तियों के नामों का ऐलान कर दिया गया। बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार रुस्तम के लिए श्रेष्ठ अभिनेता घोषित  किये गए। फिल्म  अंदाज़ में  उनकी नायिका प्रियंका चोपड़ा की बतौर फिल्म निर्माता पहली मराठी फिल्म वेंटीलेटर ने तीन राष्ट्रीय पुरस्कार जीते । वेंटीलेटर के राजेश मापुस्कर श्रेष्ठ निर्देशक का पुरस्कार पाने
में कामयाब हुए।  मलयालम फिल्म मिन्नामिनुन्गु की नायिका सुरभि लक्ष्मी को श्रेष्ठ अभिनेत्री घोषित किया  गया।  नीरजा हिंदी भाषा में बनी श्रेष्ठ फिल्म घोषित की गई।  ६४ वे फिल्म पुरस्कारों के लिए ३४४ फ़िल्में जूरी को भेजी गई थी।  इस साल के पुरस्कार हिंदी फिल्मों से हट कर क्षेत्रीय भाषाओँ की फिल्मों को तरजीह दे रहे थे।  इस साल के पुरस्कारों की खासियत यह रही कि जूरी ने उत्तर प्रदेश को सबसे ज़्यादा फिल्म
फ्रेंडली राज्य तथा झारखंड को विशेष रूप से चिन्हित किया ।  इन पुरस्कारों के लिए फिल्म पर लिखी गई ३३ पुस्तकें विचाराधीन थी। यतीन्द्र मिश्रा की लता मंगेशकर की संगीत यात्रा पर लिखी हिंदी पुस्तक लता सुरगाथा को श्रेष्ठ पुस्तक पाया गया। जी धनंजयन को बेस्ट मूवी क्रिटिक घोषित किया गया।  बेस्ट नरेशन वॉयसओवर का पुरस्कार मकीनो में एक जापानी महिला के बंगाली वॉयसओवर को दिया गया।  अब्बा बेस्ट शार्ट फिल्म
घोषित की गई।  स्पेशल एनीमेशन पुरस्कार हम पिक्चर बनाते हैं को दिया गया।  शिवाय के स्पेशल इफेक्ट्स ने नविन पॉल को बेस्ट स्पेशल इफेक्ट्स अवार्ड जिता दिया। मराठी फिल्म साइकिल बेस्ट कॉस्ट्यूम डिज़ाइनर, तमिल फिल्म २४ बेस्ट प्रोडक्शन डिज़ाइन अवार्ड पाने में सफल रही। वेंटीलेटर को बेस्ट एडिट फ़िल्म पाया गया।   द टाइगर हु क्रॉस्ड द लाइन श्रेष्ठ एनवायरनमेंट फ़िल्म घोषित की गई।  बांग्ला फिल्म प्रकटन के तुमि
जाके भालोबाशो की गायिका ईमान चक्रवर्ती को श्रेष्ठ गायिका  और तमिल फिल्म जोकर के लिए गायक सुंदरा अय्यर को श्रेष्ठ गायक का पुरस्कार दिया गया।  राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों की जूरी ने कड़वी हवा, मुक्ति भवन और मुक्ति भवन के आदिल हुसैन और नीरजा की सोनम कपूर का ख़ास उल्लेख किया।   दंगल में गीता फोगट का किरदार करने वाली ज़ायरा वसीम को श्रेष्ठ सह अभिनेत्री का पुरस्कार दिया गया।  नागेश कुकनूर की
फिल्म धनक श्रेष्ठ बाल फिल्म घोषित हुई।  सामाजिक सरोकारों पर बेस्ट फिल्म का पुरस्कार आई एम जीजा और सनथ को संयुक्त रूप से दिया गया।  क्षेत्रीय भाषाओँ में पुरस्कृत फिल्मों में राजू मुरुगन की फिल्म तमिल फिल्म जोकर, गुजराती फिल्म रॉंग साइड राजू,  कन्नड़ फिल्म रिजर्वेशन, मराठी फिल्म दशक्रिया, बंगाली
फिल्म बिसर्जन के नाम शामिल हैं।  राम माधवानी की फिल्म नीरजा श्रेष्ठ हिंदी फिल्म घोषित की गई।  मलयालम फिल्म एक्टर मोहनलाल को  जूरी का विशेष पुरस्कार दिया गया।  अलीफा को निर्देशक की पहली फिल्म का इंदिरा गांधी अवार्ड दिया गया।  मराठी फिल्म कासव श्रेष्ठ फिल्म पाई गई।  पुलिमुरुगन के एक्शन के लिए पीटर ह्यन श्रेष्ठ एक्शन डायरेक्टर का पुरस्कार पाने में कामयाब हुए।

CELEBRATING THE GRANDEUR OF INDIAN CINEMA IIFA AWARDS 2018 CONQUERS HEARTS IN BANGKOK!

T he International Indian Film Academy (IIFA), the grandest celebration of Indian Cinema, put on a show for the ages in the cosmopolita...