Wednesday, May 31, 2017

‘डियर माया’ से मनीषा कोइराला का कमबैक

बॉलीवुड की प्रतिभाशाली अभिनेत्री मनीषा कोईराला एक लंबे गैप के बाद सिल्वर स्क्रीन पर वापसी कर रही हैं। नब्बे के दशक में एक से बढ़कर एक बेहतरीन फिल्मों का अहम हिस्सा रह चुकी मनीषा इसी हफ्ते रिलीज हो रही फिल्म डियर मायाके जरिये अपने प्रशंसकों के बीच दमदार उपस्थिति दिखाएंगी। अपनी इसी कमबैक फिल्म के प्रमोशन के सिलसिले में मनीषा डायरेक्टर सुनयना भटनागर, वेव सिनेमा के सीईओ राहुल मित्रा, प्रोड्यूसर संदीप लेजेल एवं शोभना यादव और फिल्म के कलाकार श्रेया चौधरी के साथ दिल्ली में मौजूद थीं।
बॉलीवुड में दुबारा वापसी के अनुभवों के बारे में पूछने पर मनीषा ने बताया कि इस वापसी में उन्हें कोई कठिनाई नहीं हुई, हां थोड़ी देर जरूर हुई। मनीषा ने कहा, दरअसल, लंबे अर्से से मैं अच्छी पटकथा का इंतजार कर रही थी। मैंने फैसला किया था कि मैं कुछ नया, अर्थपूर्ण और अलग करूंगी। जब इस फिल्म का प्रस्ताव मुझे मिला, तो लगा जैसे जिस चीज की मुझे प्रतीक्षा थी, वह पूरी हो रही है, क्योंकि इसकी पटकथा अद्भुत है। इसमें मनोरंजन के साथ सार्थक संदेश भी है। हालांकि, इस फिल्म में मैंने जो किरदार निभाया है, वह मेरे लिए बेहद चैलेंजिंग था, लेकिन सच कहूं तो एक कुशल डायरेक्टर कलाकार की हर मुश्किल को आसान कर देता है और सुनयना ने इस फिल्म में मेरे साथ यही किया। यह फिल्म एक अधेड़ उम्र की महिला के अकेलेपन और उम्मीद की कहानी है। वाकई आज मुझे डियर मायाका हिस्सा होने पर गर्व है। इस मौके पर वेव सिनेमा के सीईओ राहुल मित्रा ने कहा कि डियर मायाएक बेहतरीन फिल्म है और मुझे यकीन है कि हर कोई इस फिल्म को पसंद करेगा और इसका आनंद लेगा। मुझे इस फिल्म का निर्माण करने पर गर्व महसूस हो रहा है।

 ‘जब वी मेट’, ‘लव आजकलएवं रॉकस्टारजैसी फिल्मों में बॉलीवुड के नामचीन निर्देशक इम्तियाज अली की सहायक रह चुकी सुनैना भटनागर की स्वतंत्र निर्देशन वाली पहली फिल्म है डियर माया’, जिसमें मनीषा कोईराला लीड रोल में हैं, जबकि इसके अन्य कलाकारों में माहदा इमाम, श्रेया चौधरी, रोहित सराफ, इरावती हर्षे, साहिल श्रॉफ जैसे कलाकार भी अहम भूमिकाओं में हैं। बतौर डायरेक्टर अपनी पहली फिल्म के बारे में सुनैना कहती हैं, ‘डियर मायाबहुत ही मेहनत से बनाई गई फिल्म है। यह मेरी डेब्य फिल्म है, जो कि शानदार रही है। मैंने कई प्रतिष्ठित लोगों के साथ काम किया है। मुझे खुशी है और इस फिल्म को लेकर मैं बहुत उत्साहित हूं। जहां तक कहानी की बात है, तो यह दो लड़कियों अन्ना और रिया की कहानी है, जिसके पड़ोस में एक औरत है, जो किसी से बात नहीं करती, बस एकांत में रहती है। ऐसे में ये दोनों लड़कियां उस औरत के साथ एक प्रैंक खेलते हैं... मासूमियत भरा, लेकिन उनका यह मजाक सबके जीवन को प्रभावित कर जाता है। डियर माया कहानी है... उम्मीदों की... प्यार की... दोस्ती की...। फिल्म 2 जून को रिलीज हो रही है।

Jim Sarbh’s debut Bengali film heads to the Indian Film Festival of Melbourne

The Indian Film Festival of Melbourne 2018 has announced its regional films list, with critically acclaimed films due for screening at...